Ganesh Chaturthi 2022 गणपति बप्‍पा का आगमन! गणेश स्‍थापना-विसर्जन मुहूर्त कब और क्यों मनाया जाता है

0

Ganesh Chaturthi 2022 : इस वर्ष गणेश उत्सव 31 अगस्‍त 2022 से शुरू हो रहा है.साथ ही गणपति का आगमन बेहद शुभ योग में हो रहा है इसे भगवान गणेश के सबसे बड़े त्योहारों में से एक माना जाता है और पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता है। और देश के कई हिस्सों में गणेश पंडालों का आयोजन किया जाता है। भाद्रपद महीने के शुक्‍ल पक्ष की चतुर्थी को गणेश स्‍थापना की जाती हैI

Ganesh Chaturthi 2022 गणपति बप्‍पा का आगमन!

Ganesh Chaturthi 2022

Ganesh Chaturthi , 10 दिनों तक चलने वाला त्योहार है इसे बहुत धूमधाम से मनाया जाता है जिसमें माता गौरी और भगवान शिव के पुत्र पृथ्वी पर अपने भक्तों के घर रहते हैं। सिद्धि विनायक के लिए लोग व्रत रखते हैं। 10 दिनों के बाद गणेश जी अपने लोगों के पास वापस चले जाते हैं और उनकी मूर्तियों को गंगा में विसर्जित कर दिया जाता है। गणेश चतुर्थी का त्योहार बहुत मस्ती और उत्साह के साथ मनाया जाता है और आरती, भजनों के साथ माहौल खुशनुमा बना रहता है।

 Ganesh Chaturthi 2022 Date And Time 

Ganesh Chaturthi 2022 Date And Time

हर साल गणेश चतुर्थी भाद्र मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को पड़ती है। इस वर्ष यह 31 अगस्त 2022 को मनाया जा रहा है जो बुधवार को पड़ रहा है।

  • भाद्रपद के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि प्रारंभ – 30 अगस्त, दोपहर 3.34 बजे से
  • भाद्रपद के शुक्ल की चतुर्थी तिथि का समापन – 31 अगस्त, दोपहर 3:23 बजे
  • दोपहर गणेश पूजा का समय – सुबह 11.12 बजे से दोपहर 1:42 बजे तक
  • चंद्र दर्शन से बचने का समय- सुबह 9.29 बजे से रात 9 बजे तक

 गणपति स्थापना का मुहूर्त 2022 

गणपति स्थापना का मुहूर्त 2022

अगर आप अपने घर पर गणेशजी की प्रतिमा स्थापित करने की सोच रहे हैं या कॉलोनी में गणपति पंडाल लग रहा है और गणेश स्थापना करनी है तो ये कार्य शुभ मुहूर्त में करें। भाद्र मास की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि 30 अगस्त को दोपहर से लगेगी, जिसका समापन 31 अगस्त को दोपहर 3 बजकर 23 मिनट पर होगा। ऐसे में मूर्ति स्थापना का यह समय उपयुक्त है।

 गणपति विसर्जन कब किया जाएगा 2022 

गणपति विसर्जन कब किया जाएगा 2022

गणेश उत्सव पूरे 10 दिनों का त्योहार है। गणपति जी स्थापना के बाद 9 दिनों तक आपके घर पर वास करते हैं। 10वें दिन गणपति विसर्जन होता है। इस बार गणपति विसर्जन 9 सितंबर 2022 को होगा। इस दिन अनंत चतुर्दशी की तिथि है। बता दें कि अनंत चतुर्दशी भगवान विष्णु की उपासना का दिन है और इसी दिन गणपति विसर्जन भी किया जाता है।

क्यों मनाते हैं गणेश उत्सव 2022

गणेश उत्सव को धूमधाम और 10 दिनों के त्योहार के तौर पर मनाने की खास वजह है। पुराणों के मुताबिक गणेश चतुर्थी के दिन माता पार्वती के पुत्र गणेश का जन्म हुआ था। एक पौराणिक कथा के अनुसार, महर्षि वेदव्यास जी ने महाभारत की रचना के लिए गणेश जी का आह्वान किया था और उनसे महाभारत को लिपिबद्ध करने की प्रार्थना की। मान्यता है कि गणेश चतुर्थी के दिन ही व्यास जी ने श्लोक बोलना और गणपति जी ने महाभारत को लिपिबद्ध करना शुरू किया था। बिना रुके गणेश जी 10 दिन तक लेखन कार्य करते रहे। इन 10 दिनों में गणेश जी पर धूल मिट्टी की परत चढ़ गई। खुद को स्वच्छ करने के लिए 10वें दिन गणपति जी ने सरस्वती नदी में स्नान किया। इस दिन अनंत चतुर्दशी थी। इस कथा के आधार पर ही गणेश स्थापना और विसर्जन की परंपरा है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!